Saturday, 29 July 2017

मेहनत का फल मीठा होता है

 अक्सर आप सभी लोगो ने सुना होगा मेहनत का फल मीठा होता है

 बात उस समय की है जब अपना देश गुलामी की जंजीर में जकड़ा हुआ था उस समय एक साधारण से घर में जन्म  लेने वाला बालक जिसका नाम संजीव था उसने एक दिन एक अंग्रेज को घोडा  गाडी में आते हुए देखा उस घोडा गाड़ी के पीछे बहुत सारे सैनिक को आते हुए उसने देखा तो उसके मन में एक ख्याल आया  की मै भी एक दिन ऐसा ही बड़ा आदमी बनुगा उसने  ये बात सारी रात सोची की मै बड़ा आदमी कैसे बनु उसने एक योजना बनाई वह सुबह जल्दी उठ जाता और अंग्रेजो को नीम का दातुन बेचता फिर उस दातुन से जो कमाता उससे वह अख़बार खरीदता और फिर अखबार बेचता और फिर अखबार से जो कमाता उससे तो वो दूध खरीदता और उस दूध से चाय बनाता और उसे बेचता ऐसा करते करते कुछ ही वर्षो में उसने काफी धन इकट्ठा कर लिया और वह साधारण सा बालक अब  एक सेठ बन चूका था इस कहानी का सिर्फ एक आशय है वो ये की जीवन में आप अपने धन को फिजूल में खर्च न करके निवेश में लगाए  फिर आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता |



  Don't waste for money                           only invest for money 


No comments:

Post a Comment