Monday, 6 February 2012

नफरत प्यार में

काभी दिन आप लोगो दूर रहा अपने कुछ दिक्कतों के कारण काभी दिनों बाद पोस्ट कर रहा हु उम्मीद है आप लोगो का प्यार मिलेगा
        यह कहानी है एक बिन माँ के बच्चे की उस  बच्चे की माँ उस बच्चे को जन्म दे के बाद चल बसी तो उस के पिता को घर वालो ने  दूसरी शादी करने का सुछाओ दिया और उसकी शादी  करा दी अब उस बच्चे की दूसरी माँ आई और उस बच्चे प् अपना सारा प्यार बरसाने लगी ऐसा लोगो को लगा क्योकि वोह उस बच्चे को सारा दिन अपनी गोद में लिए रहती थी इस लिए सभी लोग उसे बहुत अच्छी  माँ का ख़िताब देने लगे लेकिन लोगो को क्या पता था की उसकी मनसा कुछ और ही थी वोह उस बच्चे को प्यार के लिए गोद में नहीं लिए रहती थी वोह लिए इसलिए रहती थी की बच्चा काभी चलना न सिख पाए और वोह सरे जीवन के लिए आपंग हो जाये  जब तक लोगो को उसकी मनसा का पता चला तब तक बहुत देर हो चुकी थी वोह शारीरिक रूप से आपंग हो चूका था और वोह साडी जिन्दगी के लिए दुसरो पर बोछ हो गया इसीलिए कहा जाता है की हर प्यार वाली नज़र प्यार के लिए ही नहीं हो सकती 
                                                    अंग्रेजी की एक मशुर कहावत है 
                                        TOO MUCH  COURTESY  , TOO  MUCH  CRAFT 
                                                कहते है माधुरी  बानी दगा बाज़ की निसानी